DNA24X7वीडियो,धामनोद,नष्ठ हो रही किसानों के गेंहू की फसल” on YouTube

धामनोद। बुधवार को गोर्धनसागर तालाब पर धामनोद के किसानों द्वारा किए गए जल सत्याग्रह के बाद गुरुवार दोपहर 3 बजे जल संसाधन विभाग के कार्यपालन यंत्री एच के मालवीय, एसडीओ गिरीश जोशी तालाब का जल स्तर नापने पहुचे। धामनोद पटवारी मनोहर राठौर, नप अध्यक्ष प्रतिनिधि जितेंद्र सिंह राठौर भी मौके पर पहुचे। तालाब के चौकीदार से लकड़ी के बॉस को तालाब में डूबवा कर तलाबा को टेप से नाप कर तलाबा की गहराई जाची। जहा तलाबा की गहराई 7.9 इंच निकली। किसान मुकेश पाटीदार व नरेंद्र राव ने बताया कि 10 दिवस पूर्व इंजीनियर द्वारा तालाब की गहराई जाची गई थी जिसमे जल स्तर 7.4 था। इंजीनियर द्वारा उच्च अधिकारी को जल स्तर कम बताकर हम किसानों की बिजली काट दी गई जिससे हम अपनी फसलों की सिचाई नही कर सखे। 10 दिवस में जल स्तर घटने की जगह 5 फ़ीट ओर बढ़ गया है। बल्कि इन दस 10दिनों में सैलाना परिषद ने भी पेयजल के लिए पानी लिया है। 4 दिनों में कम से कम तालाब का जल स्तर 4 फ़ीट घटना चाहिए लेकिन यह 5 फ़ीट जल स्तर बड़ा हुआ है। इंजीनियर व प्रशासन ने हम किसानों को जल सत्याग्रह करने पर मजबूर किया है। प्रशासन को इंजीनियर के खिलाफ सख्त कार्यवाही करनी चाहिए।

जांच कर बताएंगे कितने एमसीएफ है

किसान व प्रशासन द्वारा बने एग्रीमेंट अनुसार 5.5 एमसीएफ के नीचे पानी होने पर किसानों को पानी लेने की अनुमति नही है। यह पानी सैलाना पेयजल को दिया जाएगा। जब किसानों द्वारा अधिकारियों से 7.9 फिट को कितने एमसीएफ होते है पूछा गया तो जल संसाधन विभाग के अधिकारियों ने कहा कि हम कार्यलय पहुच मेडम को बताकर एमसीएफ निकलवाएंगे। हम अभी नही बता सकते।

पंचनामे पर हस्ताक्षर करने से मना किया किसानों ने

मौका मुहायना कर पानी का जल स्तर नाप अधिकारियों द्वारा जो मौका पंचनामा बनाया उस पर किसानों ने हस्ताक्षर करने से मना कर दिया। किसानों का कहना है कि पहले हमें यहा कितने एमसीएफ पानी है यह बताओ ओर हमारी मांग का क्या निराकरण हुआ यह बताओ फिर हस्ताक्षर करेगे।

नप अध्यक्ष सैलाना प्रतिनिधि व धामनोद के किसान आमने सामने

मोके पर पहुचे नप अध्यक्ष को किसानों ने कहा कि सैलाना परिषद कब तक पानी हम धामनोद वालो के तलाबा से लेगी व सैलाना परिषद ने इतने वर्षों में अपना खुद का पेयजल की क्या व्यवस्था बनाई है ये बताओ। धामनोद परिषद ने पेयजल के लिए 2 कुए व खुद के ट्यूबवेल लगवाए है परन्तु सैलाना ने क्या किया। अध्यक्ष प्रतिनिधि जितेंद्र सिंह राठौर ने कहा कि आप पानी लेलो हम सैलानावासी सलफास देदो। यह पानी में अपने बच्चो के लिए नही सैलाना वासियो के लिए ले रहा हु।

नष्ठ हो रही किसानों के गेंहू की फसल

किसानों रामलाल पाटीदार व झुंझार निनामा ने खेत मे खड़े होकर अपनी गेंहू की फसल बताई। किसानों के अनुसार 10 दिनों से फसल को पानी नही मिला है। फसल अब नष्ठ होने लगी है। अगर किसानों को 3 बार का बानी नही मिलेगा तो फसल बुरी तरह से बर्बाद हो जाएगी।

फ़ोटो। हाथ मे फसल लेकर दिखाते किसान

फ़ोटो। नप्ति लेते अधिकारी

फ़ोटो। अध्यक्ष प्रतिनिधि व किसान आमने सामने
रिपोर्ट राकेश शर्मा के साथ हरीश व्यास सैलाना

3 thoughts on “DNA24X7वीडियो,धामनोद,नष्ठ हो रही किसानों के गेंहू की फसल” on YouTube

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: