आम आदमी पार्टी मध्यप्रदेश के संयोजक श्री आलोक अग्रवाल ने उज्जैन में नवीन ज़ोनल कार्यालय उद्घाटन कर किया पोहा चौपाल का आयोजन

आम आदमी पार्टी उज्जैन के नवीन ज़ोनल कार्यालय (15/1, एल.पी. भार्गव नगर, पुष्पा मिशन के पास ) का उद्घाटन प्रदेश संयोजक श्री आलोक अग्रवाल ने किया, इसके बाद नवीन कार्यालय में पत्रकारों से मुलाक़ात कर बताया प्रदेश की भाजपा सरकार बीते 14 सालों में लूट और भ्रष्टाचार को शासन रहा है जनता अब उससे त्रस्त हो चुकी है और बदलाव चाहती है। बदलाव के लिए जनता कांग्रेस को भी उम्मीद की नजरों से नहीं देख रही है क्योंकि भाजपा से पहले कांग्रेस ने भी दशकों तक प्रदेश की जनता को अंधेरे में रखा और लूट संस्कृति को बढ़ावा दिया। ऐसे हालात में आम आदमी पार्टी एकमात्र विकल्प है और आगामी विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी सभी 230 सीटों पर अपने ईमानदार, कर्मठ और बदलाव के इच्छुक लोगों को मौका देकर आम आदमी की सरकार बनाने का काम करेगी।

श्री अग्रवाल ने प्रदेश के हालात पर शिवराज सरकार को घेरते हुए कहा कि प्रदेश में किसान बर्बाद है, भावान्तर योजना फेल हो चुकी है और हर रोज 5 किसान आत्महत्या कर रहे हैं। ऐसे में मुख्यमंत्री को कृषि कर्मण नहीं, कृषि मरण पुरस्कार से नवाजा जाना चाहिए था। उन्होंने शिक्षा के हालात पर कहा कि मध्य प्रदेश में पहले ही करीब 25 हजार स्कूल बंद कर दिए गए हैं और अब फिर 46 हजार स्कूलों को बंद करने की तैयारी है। उधर प्रदेश में उत्तीर्ण छात्रों का प्रतिशत महज 48 है, यानी आधे से ज्यादा छात्र फेल हो रहे हैं। बिजली 7 से 8 रुपए प्रति यूनिट मिल रही है, जो पूरे देश में सबसे ज्यादा महंगी है। पूरे प्रदेश में पानी के लिए जनता त्राहि त्राहि कर रही है। मध्य प्रदेश के 40 लाख से ज्यादा परिवारों को पीने का पानी एक किलोमीटर दूर से लाना पड़ता है। कानून व्यवस्था का मखौल बनाकर रख दिया है। शिवराज सरकार के मंत्रिमंडल के सदस्य रामपाल सिंह की बहु ने आत्महत्या की है, लेकिन आज एक महीने बाद भी इस मामले में कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है। प्रदेश में हर रोज 14 बलात्कार होते हैं। 70 प्रतिशत बच्चों में खून की कमी है और 45 प्रतिशत बच्चे कुपोषण से ग्रस्त हैं। यही नहीं 92 बच्चे कुपोषण से रोज मर रहे हैं। ये सभी आंकड़े प्रदेश सरकार के ही हैं और सीएजी की रिपोर्ट में सामने आए हैं। उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में हालात बिगड़ चुके हैं। ऐसे में जनता के पास इस निकम्मी सरकार को उखाड़ फेंकने के अलावा कोई विकल्प नहीं है। दूसरी तरफ कांग्रेस ने भी इससे पहले हालात को सुधारने की दिशा में कोई काम नहीं किया। इसलिए आम आदमी पार्टी एक मजबूत विकल्प के तौर पर सामने आ रही है।

प्रदेश का हर नागरिक कर सकता है टिकट की दावेदारी
उन्होंने पार्टी की प्रत्याशी चयन प्रक्रिया के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि आम आदमी पार्टी ने आगामी विधानसभा चुनाव के प्रत्याशियों के चयन की प्रक्रिया शुरू कर दी है। इसके लिए पार्टी की वेबसाइट (www.aapmp.org) पर फार्म लॉन्च किया गया है। इस फार्म को डाउनलोड कर मांगी गई जानकारी देकर प्रदेश का कोई भी नागरिक आम आदमी पार्टी के टिकट पर विधानसभा चुनाव लडऩे के लिए अपनी दावेदारी कर सकता है। उन्होंने बताया कि यह फार्म aapmpvs2018@gmail.com पर मेल कर सकते हैं या फिर फार्म को भरकर प्रभारी, प्रत्याशी चयन समिति, प्रदेश कार्यालय, आम आदमी पार्टी, 212, द्वितीय तल, हाउसिंग बोर्ड शॉपिंग कॉम्पलेक्स, ओल्ड सुभाष नगर, भोपाल के पते पर भी भेज सकते हैं।

श्री अग्रवाल ने कहा कि आजादी के बाद से निरंतर पहले कांग्रेस और बाद में भाजपा का जनविरोधी, भ्रष्टाचार और अत्याचार का राज चलता आया है। इसे खत्म करने के लिए और मध्य प्रदेश की आम जनता को न्याय और विकास दिलाने के लिए आम आदमी पार्टी व्यवस्था परिवर्तन के लिए मध्य प्रदेश में चुनावी मैदान में उतर रही है। विधानसभा चुनाव 2018 में मध्य प्रदेश की सभी 230 सीटों पर आम आदमी पार्टी चुनाव लड़ेगी। इसे ऐतिहासिक मौका करार देते हुए उन्होंने प्रदेश के आदर्शवादी, कर्मठ और बदलाव के इच्छुक महिला एवं पुरुषों का आह्वान किया कि वे व्यवस्था परिवर्तन की इस राजनीति से जुड़ें और इसकी बागडोर संभालकर जनता के बीच जाकर जनादेश प्राप्त करें।

ईमेल और डाक के माध्यम से आने वाले फार्म के अलावा यह पार्टी की प्रत्याशी चयन समिति हर विधानसभा क्षेत्र में जाकर पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ संवाद करेगी और उनकी इच्छा को जानेगी। इसके बाद सभी स्रोतों से सामने आए नामों पर प्रदेश पीएसी (पॉलिटिकल अफेयर कमेटी) चर्चा करेगी और तीन नामों को केंद्रीय पीएसी के समक्ष भेजेगी। उन्होंने बताया कि प्रत्याशी चयन के लिए पार्टी ने तीन सी (C) का फार्मूला अपनाएगी। इसके तहत क्राइम, करप्शन और कैरेक्टर पर जोर होगा, यानी प्रत्याशी के खिलाफ कोई क्रिमिनल केस न हो, उस पर कोई करप्शन यानी घोटाले का आरोप न हो और उसके कैरेक्टर यानी चरित्र पर कोई दाग न हो। उन्होंने बताया कि जुलाई तक पार्टी सभी 230 विधानसभाओं पर प्रत्याशी घोषित कर देगी।

उज्जैन में आयोजित हुयी पोहा चौपाल
उज्जैन में आयोजित पोहा चौपाल में प्रदेश संयोजक श्री आलोक अग्रवाल की अध्यक्षता में सम्पन्न हुयी जिसमे ज़ोन प्रभारी श्री इन्द्रविक्रम सिंह एवं प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य व लोकसभा प्रभारी श्री आशुतोष मेहर द्वारा स्थानीय समस्याओं पर चर्चा की गयी, सम्मिलित हुए डॉक्टर, शिक्षक, समाजसेवी से चर्चा कर प्रदेश की राजनीति में अपनी हिस्सेदारी के लिए आगे आने की बात रखी। पोहा चौपाल के दौरान चर्चा में उज्जैन शहर में भ्रष्टाचार, पीने के पानी की समस्या, महंगी बिजली, प्राइवेट स्कूलों की मनमानी फीस, सरकारी अस्पतालों की लचर व्यवस्था एवं सरकारी स्कूलों में गुणवत्ता युक्त शिक्षा की कमी का होना आदि समस्याएं सामने आयी जिसे वर्तमान सरकार 15 साल में भी दुरुस्त नही कर पायी । पोहा चौपाल का मकसद जनता के बीच की समस्याओं को जानना और इसमें सम्मिलित हुए डॉक्टर, इंजीनियर, समाजसेवी एवं कार्यकर्ताओं से सीधे संवाद कर चुनाव के लिए घोषणा पत्र तैयार करना है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *